Wednesday, October 5, 2022
The Funtoosh
Homeहेल्थत्वचा, बाल रहे हेल्दी, पीरियड्स का दर्द हो दूर जब लगाएंगे नाभि...

त्वचा, बाल रहे हेल्दी, पीरियड्स का दर्द हो दूर जब लगाएंगे नाभि में तेल, ये हैं अन्य फायदे


Benefits of applying oil in Navel: शरीर पर तेल लगाकर मालिश करने से कई फायदे होते हैं. ठीक उसी तरह नाभि में भी तेल लगाया जाता है और ऐसा करने से सेहत को कई लाभ पहुंचते हैं. नाभि में तेल (Putting Oil in Navel) लगाने से लंबी उम्र तक आप स्वस्थ रह सकते हैं. इसमें आप सरसों (Mustard oil), नारियल (Coconut Oil) , जैतून (Olive oil) आदि कोई भी तेल लगा सकते हैं. नाभि में तेल डालकर मालिश करने का चलन काफी पुराना है. आप कई तरह के एसेंशियल ऑयल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. शरीर का मध्य बिंदू होने के कारण नाभि में तेल लगाने से पेट दर्द ठीक होता है. आइए जानते हैं नाभि में तेल लगाने से और क्या-क्या फायदे (navel oil therapy) शरीर को होते हैं.

इसे भी पढ़ें: नाभि खिसकना क्या होता है? जानिए इसके लक्षण और घरेलू उपाय

नाभि में तेल डालकर मालिश करने के फायदे

नाभि रहती है साफ
प्रिस्टिनकेयर में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, शरीर के अन्य अंगों की ही तरह बेली बटन या नाभि को भी साफ रखना जरूरी है. नाभि को लगातार अंगूर के बीजों के तेल, सूरजमुखी के तेल, जोजोबा ऑयल आदि से साफ करते रहना चाहिए. कॉटन बॉल को तेल में डुबाकर नाभि के आसपास लगाएं. थोड़ी देर बाद वहां जमी गंदगी ढीली पड़ जाएगी, जिससे नाभि आसानी से साफ हो जाएगी.

पीरियड के दर्द को करे कम
यदि आपको पीरियड्स के चार दिनों में बहुत अधिक पेट दर्द, ऐंठन होता है, तो आप कैस्टर आयल या अरंडी के तेल को गर्म करके नाभि में डालें. ऐसा करने से पीरियड्स में होने वाला दर्द और तकलीफ कम होगी.

इसे भी पढ़ें: Honey Benefits: शहद केवल खाने से ही नहीं बल्कि नाभि पर लगाने से भी मिलते हैं कई फायदे

जोड़ों में होने वाले दर्द को करे दूर
जिन लोगों को अर्थराइटिस या ऑस्टियोपोरोसिस की समस्या है, वो नाभि में अदरक या अरंडी के तेल की कुछ बूंदों को लगाकर मालिश करें तो दर्द और सूजन कम होगा. नाभि में तेल डालने से जोड़ों को चिकनाई मिलती है, जिससे स्टिफनेस दूर होती है.

पाचनशक्ति में सुधार होता है
नाभि में सरसों तेल डालकर मालिश करने से पाचनशक्ति सही होता है. पेट संबंधित समस्याएं जैसे इर्रेटिबल बाउल सिंड्रोम, ब्लोटिंग, कब्ज, अपच, पेट दर्द आदि ठीक हो सकता है. साथ ही गैस, पित्त जूस लिवर से रिलीज करने में मदद करता है, जिससे पाचन दुरुस्त होता है और उल्टी, मतली, पेट दर्द, ऐंठन की समस्या नहीं होती है.

त्वचा को रखे हेल्दी
जब आप नाभि में तेल डालकर मसाज करते हैं, तो इससे त्वचा में निखार आता है. स्किन हेल्दी रहती है. जैतून के तेल से मालिश करें, स्किन पर कुछ ही दिनों फर्क नजर आने लगेगा. साथ ही त्वचा संबंधित एलर्जी, इंफेक्शन, इंफ्लेमेशन दूर करता है. स्किन की नमी को बनाए रखने में मदद करता है.

बालों को बनाए घना, मजबूत
नाभि में नारियल या जैतून का तेल डालकर मसाज करने से बालों को मजबूती मिलती है. नाभि शरीर के अंदर लगभग 72,000 नसों से जुड़ा होता है, जो शरीर को तेल में मौजूद विभिन्न प्रकार के आवश्यक मिनरल्स को अवशोषित करने में मदद करता है.

प्रजनन स्वास्थ्य में हो सुधार
यदि आपको प्रजनन क्षमता को मजबूत करनी है, तो प्रतिदिन नाभि में तेल डालकर हल्के हाथों से मालिश करें. इसके लिए नीम का तेल या फिर नारियल तेल कारगर है. इससे स्पर्म काउंट में वृद्धि होती है, महिलाओं को पीरियड्स के दौरान होने वाले क्रैम्प, पेट दर्द से छुटकारा दिलाता है. फर्टिलिटी बूस्ट करने के साथ ही रिप्रोडक्टिव डिसऑर्डर से बचाए रखता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
The Funtoosh

Most Popular

Recent Comments