Sunday, October 2, 2022
The Funtoosh
Homeहेल्थUtangan Plant Benefits: आयुर्वेदिक औषधीय गुणों से भरपूर है उटंगन का पौधा,...

Utangan Plant Benefits: आयुर्वेदिक औषधीय गुणों से भरपूर है उटंगन का पौधा, इन गंभीर बीमारियों में है फायदेमंद


Utangan Plant Benefits: उटंगन के पौधे (Utangan Plant) का नाम आयुर्वेद (Ayurveda) की दुनिया में काफी प्रसिद्ध है. यह पौधा ज्यादातर ठंडी जगहों पर नदी के किनारे मिलता है. उटंगन के पौधे का इस्तेमाल आयुर्वेदिक औषधि के रूप में किया जाता है. इसके फूल, पत्तियों और बीज में मौजूद औषधीय गुण (Medicinal Value) कई तरह की परेशानियों का इलाज करते हैं. यह स्किन में होने वाले फोड़े-फुंसियों और घाव को ठीक करने में मददगार होता है. वहीं उटंगन की सब्जी का सेवन करने से नींद न आने की समस्या दूर होती है. जिन लोगों को सांस संबंधी परेशानियां होती हैं उन्हें उटंगन का सेवन जरूर करना चाहिए. ओनलीमाईहेल्थ की खबर के अनुसार उटंगन का सेवन काढ़े के रूप में भी किया जाता है. इसकी जड़, पत्तियां, फूल, फल, तना और बीज को सूखाकर इन सबका काढ़ा बनाया जा सकता है जो कि शरीर की कई समस्याओं को ठीक करता है. इसके अलावा इन सबके पेस्ट को छाती पर लगाने से सर्दी-खांसी में आराम मिलता है. इसके सेवन से शरीर में शुगर लेवल भी कंट्रोल में रहता है. आइए आपको बताते हैं उटंगन के सेवन से शरीर को किस तरह से फायदा पहुंच सकता है.

उटंगन के फायदे
उटंगन के पौधे में औषधीय गुण पाए जाते हैं, जिससे शरीर को कई तरह से फायदा मिलता है. इसके फल, फूल और पत्तियों के सेवन से शरीर को कई गंभीर परेशानियों से छुटकारा मिलता है.

पित्त दोष दूर करता है
शरीर में पित्त को संतुलित करना बहुत ही जरूरी होता है. ऐसा न होने से लोग कई प्रकार की गंभीर बीमारियों से ग्रसित हो सकते हैं. पित्त रोग के असंतुलन होने पर उटंगन का सेवन करना फायदेमंद होता है. इसका काढ़ा पीने से या फिर चूर्ण का सेवन करने से पित्त रोग को दूर करने में मदद मिलती है. ज्यादा गुस्सा आना या त्वचा पर जलन और फोड़ें-फुंसी होना पित्त रोग के लक्षण होते हैं. ऐसे में इन्हें दूर करने के लिए उटंगन का सेवन करें.

इसे भी पढ़ेंः Herbal Drinks For Pimple: पिंपल्स से छुटकारा पाने के लिए पिएं ये 3 स्पेशल हर्बल ड्रिंक्स

सांस संबंधी परेशानियों को करता है दूर
आज के समय में बढ़ते प्रदूषण की वजह से कई लोगों सो सांस संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में उटंगन का सेवन करना फायदेमंद साबित हो सकता है. यह सांस संबंधी बीमारियों में काफी हद तक राहत देता है. इसका चूर्ण और काढ़े के सेवन से सांस संबंधी समस्याओं को कंट्रोल में रखना आसान है. यह लंग्स के लिए फायदेमंद है. इसके अलावा उटंगन के बीजों को पीसकर इसका पेस्ट छाती पर लगाने से सर्दी-खांसी में आराम मिलता है.

पीरियड्स के दर्द में आराम
पीरियड्स के दौरान महिलाओं को कई समस्याओं को सामना करना पड़ता है जिसमें पेट में तेज दर्द और ऐंठन होना आम बात है. पीरियड्स के तेज दर्द और ज्यादा ब्लीडिंग से परेशान महिलाएं उटंगन का सवेन कर सकती हैं. यह पीरियड्स के समय महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद है. आयुर्वेद में पीरियड्स के दौरान होने वाली समस्याओं को ठीक करने के लिए उटंगन का चूर्ण खाने की सलादह दी जाती है.

यूटीआई में फायदेमंद
उटंगन यूटीआई में बेहद फायदेमंद होता है. यह टॉयलेट करने के दौरान होने वाले दर्द में राहत दिलाता है. अगर आपको यूटीआई की समस्या है तो आप इसके बीज के चूर्ण का मिश्री के साथ सेवन कर सकते हैं. कुछ दिनों तक नियमित रूप से इसके सेवन से यूटीआई की समस्या से छुटकारा मिल सकता है.

घाव करता है ठीक
शरीर पर चोट लगने के दौरान जो घाव बनता है उसे ठीक करने के लिए उटंगन का इस्तेमाल किया जा सकता है. दरअसल घाव पर कई तरह के बैक्टीरिया जमा हो जाते हैं जो उसे नुकसान पहुंचाते हैं. ऐसे में उटंगन की पत्तियों को पीसकर घाव पर लगाने से घाव जल्दी भर जाता है. साथ ही चोट के दर्द में भी आराम मिलता है.

शुगर लेवल करता है कंट्रोल
शरीर के ब्लड शुगर लेवल में रखने के लिए उटंगन का सेवन किया जा सकता है. इसके सेवन से डायबिटीज होने का खतरा भी कम होता है. यह शरीर में सूजन की समस्या को भी कम करता है.

इसे भी पढ़ें: वजन कम करने के लिए पिएं तुलसी और अजवाइन का पानी, ऐसे होगा फायदा

पुरुषों की यौन क्षमता बढ़ाता है
उटंगन थकान और शरीर की कमजोरी को दूर करने में भी फायदेमंद होता है. इसके चूर्ण का कुछ दिनों तक नियमित रूप से सेवन करने से शरीर की कमजोरी दूर होती है. साथ ही यह पुरुषों की यौन क्षमता को भी बढ़ाता है. यह सेक्स ड्राइव को मजबूत करने में मददगार है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
The Funtoosh

Most Popular

Recent Comments