Thursday, December 8, 2022
The Funtoosh
Homeहेल्थBenefits of Rajgira Flour: नवरात्रि व्रत में खाए जाने वाले राजगिरा के...

Benefits of Rajgira Flour: नवरात्रि व्रत में खाए जाने वाले राजगिरा के आटे के फायदे जानते हैं आप?


Benefits of Rajgira Flour: चैत्र नवरात्रि (Chaitra Navratri 2022) की शुरुआत हो गई है. पूरे 9 दिन लोग मां दुर्गा की पूजा-अर्चना करते हैं, व्रत रखते हैं. नवरात्रि के व्रत के दौरान कई पौष्टिक चीजों का सेवन किया जाता है, जिसमें राजगिरा का आटा (Rajgira) भी शामिल है. राजगिरा को चौलाई या अमरंथ (Amaranth) भी कहा जाता है. यह स्वाद में तो ऊम्दा होता ही है, पोषक तत्वों का खजाना भी होता है. राजगिरा की तासीर गर्म होती है, इसलिए गर्मी के दिनों में इसका सेवन थोड़ा सीमित मात्रा में भी करेंगे तो भी लाभ होगा. आइए जानते हैं राजगिरा या रामदाना के आटे के फायदे (Amaranth ke fayde) क्या-क्या होते हैं.

इसे भी पढ़ें: Chaitra Navratri 2022: डायबिटीज रोगी, प्रेग्नेंट महिलाएं नवरात्रि व्रत में रखें इन बातों का ख्याल, रहेंगे हेल्दी

राजगिरा (चौलाई) क्या है
हेल्थलाइन में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, राजगिरा या अमरंथ के बीज छोटे होते हैं. अमरंथ 60 से अधिक विभिन्न प्रजातियों का एक समूह है, जिसकी खेती लगभग 8,000 वर्षों से की जाती रही है. अमरंथ गेहूं या जई की तरह अनाज नहीं होता है, लेकिन यह पोषक तत्वों से भरपूर होता है. इसका उपयोग कई तरह से किया जाता है. कई तरह के व्यंजन बनाए जाते हैं. राजगिरा या अमरंथ प्राकृतिक रूप से ग्लूटेन-फ्री होता है और प्रोटीन, फाइबर, माइक्रोन्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सिडेंट आदि पौष्टिक तत्वों से भरपूर होता है. साथ ही इसमें मैग्नीशियम, मैंगनीज, फॉस्फोरस, आयरन, कार्ब्स, फैट, कैलोरी, कॉपर भी होते हैं.

राजगिरा या अमरंथ के फायदे

इंफ्लेमेशन होता है कम
सूजन या इंफ्लेमेशन एक सामान्य प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया है, जो चोट और संक्रमण से शरीर को बचाने के लिए डिजाइन किया गया है. हालांकि, क्रोनिक इंफ्लेमेशन कई तरह की क्रोनिक डिजीज का कारण बन सकती है और कैंसर, डायबिटीज और ऑटोइम्यून डिसऑर्डर जैसी स्थितियों से जुड़ी हुई होती है. कई स्टडी में ये बात सामने आई है कि रागगिरा या अमरंथ (rajgira ke aate ke fayde) शरीर में एंटी-इंफ्लेमेटरी असर करता है.

इसे भी पढ़ें: Navaratri Foods: व्रत के दौरान फलाहार में चाहते हैं वैराइटी? राजगीरा आटा से बनाएं ये फूड आइटम्स

हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल घटाए
कोलेस्ट्रॉल एक फैट जैसा पदार्थ होता है, जो पूरे शरीर में पाया जाता है. शरीर में बहुत ज्यादा कोलेस्ट्रॉल होने से आर्टरीज संकुचित हो सकती हैं. जानवरों पर किए गए अध्ययनों में पता चला है कि अमरंथ या राजगिरा में कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले तत्व होते हैं. चूहों पर किए गए एक अध्ययन में यह सामने आया कि राजगिरा या अमरंथ का तेल टोटल और बैड कोलेस्ट्रॉल (LDL Cholesterol) को क्रमश: 15% और 22% तक कम करने में फायदेमंद है.

वजन करे कम
यदि आपका वजन बहुत अधिक है, तो आप राजगिरा के आटे का सेवन कर सकते हैं. इसमें अधिक मात्रा में फाइबर, प्रोटीन होता है, जो वजन कम करने में कारगर होते हैं. कुछ लोगों पर किए गए एक अन्य अध्ययन से पता चला है कि उच्च प्रोटीन डाइट भूख और कैलोरी की मात्रा में कमी लाती है. फाइबर देर तक पेट भरे होने का अहसास कराता है.

दिल को रखे हेल्दी
राजगिरा के आटे का सेवन करने से दिल की सेहत दुरुस्त रहती है. चूंकि, इसमें कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले तत्व होते हैं, इसलिए हार्ट हेल्दी रहता है. हाई कोलेस्ट्रॉल हार्ट अटैक के जोखिम को बढ़ा सकता है.

इम्यूनिटी करे बूस्ट
यदि आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है, तो भी आप राजगिरा का सेवन कर सकते हैं. जिंक, विटामिन ए से भरपूर चौलाई या अमरंथ का आटा इम्यूनिटी को बूस्ट करने में मदद करता है.

Tags: Chaitra Navratri, Health, Health tips, Lifestyle



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
The Funtoosh

Most Popular

Recent Comments