Sunday, October 2, 2022
The Funtoosh
Homeक्रिकेटआईपीएल के पहले हफ्ते में फूला सूरमाओ का दम, कहीं दिल्ली न...

आईपीएल के पहले हफ्ते में फूला सूरमाओ का दम, कहीं दिल्ली न रह जाए दूर


आईपीएल का दूसरा सप्ताह शुरू हो चुका है और अब तक खेले गए 10 मैचों का जो लव्वोलुआब निकल कर आया है, वह यह कि इस बार सूरमाओं का रास्ता आसान नहीं होगा. कोलकाता नाइट राइडर्स इकलौती टीम है, जो अब तक तीन मैच खेल चुकी है, और इनमें से 2 में उसे जीत मिली है. यानि जिस टीम ने 2014 के बाद कभी खिताब नहीं जीता, उसने तीन में से 2 मैच जीतकर दमदार शुरुआत की है. चार खिताब जीतने वाली चेन्नई सुपर किंग्स अब तक दोनों मैच हारी है. पांच खिताब जीत चुकी मुंबई इंडियंस की शुरुआत हमेशा से कमजोर रही है, इस दफा भी उसने यह सिलसिला नहीं तोड़ा. दो महानगरों की जंग मे दिल्ली कैपिटल्स ने दस गेंद बाकी रहते चार विकेट से मुंबई से बाजी मार ली. कल खेले गए दूसरे मैच मे कप्तान साहेब यानि रोहित शर्मा की टीम राजस्थान रॉयल्स से भी हार गई. राजस्थान रॉयल्स और नई टीम गुजरात जायंट्स ने अब तक दो-दो मैच खेले हैं, और दोनों मे उन्हें जीत नसीब हुई है.

यानि अब उस दौर की शुरुआत हो चुकी है, जहां नाम और आंकड़े बेमानी हो जाते हैं. जाहिर है रस्साकशी के इस दौर मे हर बीतते दिन लीग का रोमांच शबाब पर पहुंचता जाएगा.

डिफेंडिंग चैम्पियन से ही आज के सफर की शुरुआत करें, चेन्नई पर आज सभी की निगाहें हैं, वजह साफ कि उन्हें अपने तीसरे मैच मे भी पहली जीत की तलाश है. पहले कोलकाता नाइटराइडर्स से हारे फिर नई टीम लखनऊ सुपरजाइंट्स से भी शिकस्त झेलनी पड़ी. केकेआर के खिलाफ टीम की बल्लेबाजी ने निराश किया, तो दूसरे में शबनम आड़े आ गई. हालात यह की लखनऊ के खिलाफ 20 ओवर मे 10 रन प्रति ओवर की दर से बनाने के बाद चेन्नई टारगेट को डिफेन्ड नहीं कर सके.

चेन्नई को चाहर की कमी महसूस हो रही

तेज गेंदबाज दीपक चाहर और एडम मिल्ने तथा डेथ ओवर्स के मास्टर माने जाने वाले क्रिस जोर्डन की गैर मौजूदगी टीम पर असर डाल रही है. शिवम दुबे डेथ ओवर के बेहतर विकल्प कतई नहीं हो सकते. लखनऊ के विरुद्ध 19 वें ओवर मे शिवम ने 25 रन दिए, और मुकाबले को फिसलने दिया. कप्तान जडेजा, ऋतुराज गायकवाड़ को भी रनों मे उतरना होगा. दिलचस्प प्रदर्शन महेंद्र सिंह धौनी के बल्ले से हुआ है, जिन्होंने पहले मैच मे आखिरी गेंद पर अर्ध शतक लगाया, जबकि दूसरे मैच मे सिर्फ 6 गेंद पर 16 रन बना डाले .

बहरहाल पंजाब किंग्स की टीम में मयंक अग्रवाल, शिखर धवन और भानुका राजपक्षे टॉप ऑर्डर मे मौजूद हैं और उनमें यह क्षमता है कि मुकाबले को अपने हक मे झुका सकें. ओडियन स्मिथ और शाहरुख खान ने भी प्रभावित किया है. पंजाब कोलकाता से हारे, लेकिन बैंगलोर को 200 से ज्यादा स्कोर चेज करते हुए शिकस्त दी, यानि आज भी तीसरे मुकाबले मे चेन्नई को जीत के लिए पूरी ताकत झोंकनी पड़ेगी.

धोनी का कप्तानी छोड़ना सीएसके पर भारी पड़ रहा

लेंस लगाकर चीजों को देखने वाले कह सकते हैं कि धोनी का कप्तानी से हटना टीम को भारी पड रहा है. लेकिन हकीकत यह भी है कि धोनी की मौजूदगी में भला और कौन कप्तान हो सकता है? धोनी भले ही कप्तान न हों, लेकिन जडेजा उनकी सलाह के बिना चल नहीं सकते. ऐसा करना जडेजा की मजबूरी नहीं है. लेकिन धोनी का कद अब टीम के कद से बड़ा नहीं तो छोटा भी नहीं रह गया है.

चेन्नई को अगर पहली जीत की तलाश है तो मुंबई की कहानी भी जुदा नहीं है. हैरत यह की ईशान किशन ने अब तक दोनों मैचों मे जबरदस्त शुरुआत दी है, और आईपीएल के सबसे महंगे खिलाड़ी होने के अपने टैग को जस्टीफ़ाई भी किया है. पहले मैच मे ईशान ने 81 रन की यादगार पारी खेली तो कल फिर अर्धशतक लगाया. राजस्थान के खिलाफ तिलक वर्मा ने भी 61 रन की तूफ़ानी पारी खेलकर अपनी उपयोगिता सिद्ध की.

रोहित रंग में नजर नहीं आ रहे

रोहित शर्मा के बल्ले मे नियमितता के दीदार नहीं हो रहे हैं, इसी तरह कायरन पोलार्ड से लंबी पारी आनी बाकी है. कल तो उन्होंने 22 रन बनाने के लिए 24 गेंदों का सामना किया. इतना ही नहीं उनके एक ओवर मे हेटमायर ने 26 रन जड़ दिए. टीम के लिए बेहतर यह कि बुमराह ने शुरू से ही लाइन पकड़ ली है. राजस्थान के खिलाफ तो कल उन्होंने चार ओवर मे महज 17 रन देकर 3 विकेट निकाल लिए. यानि किफायत भी और झटके भी.

हैदराबाद पॉइंट्स टेबल में सबसे नीचे

अब तक पॉइंट्स टेबल पर राजस्थान रॉयल्स टॉप पर है, तो सनराइजर्स हैदराबाद सबसे नीचे है. हैदराबाद की छटपटाहट को और सबसे निचली पायदान पर लगातार बने रहने के दर्द को समझा जा सकता है. डेविड वॉर्नर के जाने से भी कम से कम इस सीजन की शुरुआत मे टीम की किस्मत नहीं बदली है. रॉयल्स ने उन्हे पहले ही मैच मे 61 रन से धोया, जाहिर है कि इस तरह की हार से उबरने मे वक्त लग सकता है. बहरहाल टीम मे कुछ भी ऐसा नहीं दिखा जिसकी फिलहाल चर्चा की जाए, लेकिन टीम के खिलाफ गया, थर्ड अम्पायर का एक फैसला अब विवादों मे शामिल हो चुका है. दरअसल केन विलियमसन को थर्ड अम्पायर ने कैच आउट करार दिया था. सनराइजर्स ने अब इस फैसले के खिलाफ आईपीएल गवार्निंग काउंसिल को शिकायत भेजी है.

प्रसिद्ध कृष्ण की एक गेंद विलियमसन के बल्ले से लगती हुई, विकेटकीपर संजू सैमसन के दस्तानों तक पहुंची, लेकिन उससे डिफलेक्ट होती हुई स्लिप पर खड़े देवदत्त पडिकल के पास गई, और उन्होंने कैच पकड़ लिया. हालाकि रीप्ले मे दिखाई दे रहा था, की संभवतः गेंद पडिक्कल के हाथों मे पहुंचने से पहले जमीन पर टच हो चुकी थी. अब ऑन फील्ड अम्पायर तो चूक जाते हैं, लेकिन थर्ड अंपायर वीडियो देखने के बाद गलतियां करेंगे तो बात तो उठेगी ही.

राजस्थान ने दिल और मैच दोनों जीते

उधर टेबल के टॉप पर बनी राजस्थान रॉयल्स ने लोगों के दिल और अब तक खेले गए दोनों मैच भी जीते हैं. यही नहीं कल जोस बटलर ने इस सीजन का पहला शतक भी ठोक दिया. बटलर ने सिर्फ 68 गेंदों पर 11 चौके और 5 छक्के जड़कर पहला शतक लगाया और उनकी बदौलत रॉयल्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 193 रन बनाए. यशस्वी जायसवाल, पडिक्कल और संजू सैमसन की मौजूदगी से बल्लेबाजी तो मजबूत बनती ही है. शिमरोन हेटमायर ने कल सिर्फ 14 गेंदों पर 35 रन बनाकर हैरत मे डाल दिया. मुंबई लक्ष्य से 24 रन पीछे रह गए. यूजवेन्द्र चहल और ट्रेंट बोल्ट शुरू से ही रॉयल्स को मजबूती दे रहे हैं. लीग मे अब तक बटलर और ईशान किशन ही ऐसे दो बल्लेबाज हैं, जिन्होंने 100 रन के आंकड़े को पार किया है. दोनों ने अब तक खेले गए दो-दो मैचों मे 135 रन बनाए हैं.

राजस्थान के अलावा नई टीम गुजरात जायंट्स भी अब तक दोनों मैच जीतकर पॉइंट्स टेबल में मजबूत दिखाई दे रहे हैं. गुजरात ने पहले मैच मे दूसरी नई टीम लखनऊ सुपर जायंट्स को पराजित किया और कल रात दिल्ली कैपिटल्स को शिकस्त दी. लखनऊ के खिलाफ मैथ्यू वेड थोड़ा बहुत चले, तो शुभमन गिल खाता भी नहीं खोल पाए, लेकिन कल गिल ने धमाल कर दिया और उनके 46 गेंदों पर बनाए 84 रन की बदौलत 171 रन बनाए. फिर जब बारी गेंदबाजी की आई तो लॉकी फर्ग्युसन ने सिर्फ 28 रन देकर बेशकीमती चार विकेट हासिल कर लिए. कल फर्ग्युसन चले तो पहले मैच मे लखनऊ के खिलाफ मोहम्मद शमी ने शुरुआती क्रम को पूरी तरह नेस्तनाबूत कर दिया.

शुरुआती दौर मे हालाकि पॉइंट्स टेबल मे पोजीशन बहुत मायने नहीं रखती, लेकिन नाइट राइडर्स तीन में दो मैच जीतकर टॉप-3 में बरकरार है. टीम के लिए उमेश यादव इस बार कमाल कर रहे हैं. वे अब तक 3 मैच में सबसे अधिक 8 विकेट ले चुके हैं. उमेश ने 2019 में पूरे सीजन मे 11 मैच में 8 विकेट लिए थे, जबकि पिछले सीजन खेले नहीं, और 2020 मे महज दो विकेट ही उनके नाम थे. पंजाब किंग्स के खिलाफ उन्होंने 23 रन देकर 4 विकेट लिए, जो उनके आईपीएल करियर का बेस्ट प्रदर्शन है. कोलकाता ने अब तक पंजाब और चेन्नई को हराया है और आरसीबी से उसे हार झेलनी पड़ी है. टीम के लिए रसेल के बल्ले से रन निकल रहे हैं, गेंदबाजी मे उमेश यादव का अच्छा साथ टीम साउदी निभा रहे हैं.

बहरहाल अगले हफ्ते जब हम मिलेंगे, तो एक धुंधली सी तस्वीर उभरने लगी होगी. लेकिन सबसे ज्यादा बार खिताब अपने नाम करने वाली मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स को इस हफ्ते मे जीत का सिलसिला शुरू करना पड़ेगा, वर्ना उनके लिए कहीं देर न हो जाए.

(डिस्क्लेमर: ये लेखक के निजी विचार हैं. लेख में दी गई किसी भी जानकारी की सत्यता/सटीकता के प्रति लेखक स्वयं जवाबदेह है. इसके लिए News18Hindi किसी भी तरह से उत्तरदायी नहीं है)





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
The Funtoosh

Most Popular

Recent Comments