Thursday, December 8, 2022
The Funtoosh
Homeपैसा बनाओमहंगाई की मार: फलों और सब्जियों के दाम फिर से आसमान पर,...

महंगाई की मार: फलों और सब्जियों के दाम फिर से आसमान पर, इतने दिनों के बाद आपको मिल सकती है राहत


Vegetable Inflation: दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) सहित देश के कई हिस्सों में नवरात्र (Navratra) के दौरान फलों और सब्जियों के दाम (Fruits and Vegetables Prices) आसमान छूने लगे हैं. खासकर हरी सब्जियों के दाम में तो पिछले दो-तीन दिनों में जबरदस्त उछाल देखने को मिल रहा है. फलों और सब्जियों के बढ़ते दाम ने हर घर के बजट को बिगाड़ दिया है. कुछ सब्जियों के दाम तो फलों से भी महंगे हो गए हैं. एक नींबू 10 रुपये में बिक रहा है. वहीं, अगर एक किलो नींबू खरीदने जाते हैं तो दुकानदार 200 से 250 रुपये प्रति किलो की मांग कर रहे हैं. हालांकि, थोक मंडियों में नींबू के दाम काफी कम हैं. इसी तरह भिंडी, परवल, खीरा, घीया, तोरई समेत कई और सब्जियां भी रुला रही है.

बता दें भिंडी 120 रुपये प्रति किलो बिक रहे हैं. वहीं करेला 80 रुपये से लेकर 100 रुपये के बीच बिकने लगे हैं. अमूमन नवरात्र में प्याज के दाम घट जाते हैं, लेकिन इस बार प्याज भी 30 से 40 रुपये प्रति किलो बिक रहे हैं. जमाखोरी और ट्रांसपोर्टेशन खर्च में बढ़ोतरी से कई तरह के सब्जियों के दाम में जबरदस्त उछाल आया है. गाजर 50 से 60 रुपये प्रति किलो बिक रहे हैं. अदरक 70 से 80 रुपये प्रति किलो, शिमला मिर्च 90 से 100 रुपये प्रति किलो बिक रहे हैं.

पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दाम जिस तरह से बढ़ रहे हैं.

क्यों बढ़ रहे हैं सब्जियों के दाम

बता दें कि पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दाम जिस तरह से बढ़ रहे हैं, उसी तरह नवरात्र में सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं. एक्सपर्ट्स का मानना है कि पेट्रोल, डीजल के दाम बढ़ने से यातायात किराया बढ़ जाने से ये हालात पैदा हुए हैं. अगले 15 दिनों तक त्योहारों का सीजन खत्म हो जाने के बाद भी महंगाई खत्म नहीं होने वाली है.

रसोई घर का बजट किसने बिगाड़ा

फलों और सब्जियों के दाम बढ़ते जा रहे हैं, जिससे महंगाई की मार लोगों पर साफ नजर आ रही है. सब्जियां लगातार लोगों की पहुंच से बाहर हो गई हैं. देश के हर कोने में खाद्य पदार्थों की चीजों में बढ़ोतरी ने रसोई घर का बजट बिगाड़ दिया है. पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के दाम के बाद सब्जियों के दाम जिस तरीके से आसमान छू रहे हैं, उसने आम लोगों के लिए एक बड़ी परेशानी खड़ी कर दी है.

कौन सी सब्जियां सबसे ज्यादा मंहगी?

टमाटर की कीमत की अगर बात करें तो 2 महीने पहले तक जहां टमाटर की कीमत 20 रुपये किलो थी, वह पिछले कुछ दिनों में तीन से चार गुना बढ़ चुकी है. बढ़ती कीमतों के कारण लोग टमाटर का इस्तेमाल खाना बनाने में कम कर रहे हैं. यही हाल प्याज सहित अन्य सब्जियों का भी है. प्याज की कीमत 1 महीने पहले तक 20 से 25 रुपये थी, वह अब 40 पार पहुंच गई है. बढ़ रहे प्याज के दाम लोगों के आंसू निकाल रहे हैं. प्याज और टमाटर के लगातार बढ़ते दामों के कारण लोग इनको खरीदने से परहेज भी कर रहे हैं.

सब्जियां भी गर्मी से राहत दे सकती हैं
गर्मी के दिनों में हरी सब्जियों के आवक में कमी आ जाती है.

ये भी पढ़ें: Apple Farming: UP- बिहार में भी अब हिमाचल प्रदेश और जम्मू- कश्मीर की तरह ही सेब की होगी बंपर पैदावार?

दिल्ली की आजादपुर मंडी से सब्जी खरीद कर खुदरा बाजार में बेचने वाले हरीश कहते हैं, ‘गर्मी के दिनों में हरी सब्जियों के आवक में कमी आ जाती है. मंडी से जो सामान लाते हैं, उसे खुदरा बाजार में रेट दोगुना करना पड़ता है. हमलोगों की मजबूरी यह है कि ट्रांसपोर्टेशन में अब पहले की तुलना में ज्यादा पैसा खर्च करना पड़ रहा है. इसके साथ ही और कई तरह के खर्चें हैं, जो इसी से निकालना पड़ता है.

Tags: Delhi-NCR News, Good prices of vegetables, Inflation, Navratri, Vegetable prices



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
The Funtoosh

Most Popular

Recent Comments