Thursday, December 8, 2022
The Funtoosh
Homeहेल्थनींद से भी पता चलता है कि आपमें खतरा लेने का कितना...

नींद से भी पता चलता है कि आपमें खतरा लेने का कितना है दम – स्टडी


Our sleep shows how risk-seeking we are : भरपूर नींद लेना हेल्दी लाइफस्टाइल का अहम हिस्सा होता है. जानकारों की मानें तो दिन में कम से कम सात से आठ घंटे की नींद (Sleep) लेना जरूरी होता है. इससे आप फ्रेश और सेहतमंद महसूस करते हैं. लेकिन, आप ये जानते हैं कि आपकी नींद से ये भी पता चल सकता है कि आपमें खतरा लेने का कितना दम है. स्विट्जरलैंड की यूनिवर्सिटी ऑफ बर्न (University of Bern) के रिसर्चर्स ने एक स्टडी में पाया है कि सोने के दौरान किसी व्यक्ति के दिमाग की तरंगें खतरा लेने या झेलने की क्षमता का निर्धारण करती हैं. स्टडी में 54 लोगों लोगों को शामिल किया गया, जो आमतौर पर सात से आठ घंटे साते थे. न्यूरोसाइंटिस्ट डारिया नोक (Daria Knoch) के अनुसार, ‘गहरी नींद के दौरान किसी व्यक्ति के दाहिने प्रीफ्रंटल कार्टेक्स (Right Prefrontal Cortex) पर तरंगें जितनी धीमी होती हैं, रिस्क के लिए उसकी प्रवृत्ति उतनी ही अधिक होती है. ब्रेन का ये एरिया अन्य कार्यों के अलावा स्वयं के आवेगों को कंट्रोल करने के लिए महत्वपूर्ण है.’

गहरी नींद के दौरान तरंगें धीमी होती हैं. ये अच्छी नींद की गुणवत्ता का संकेत देती है. ब्रेन में धीमी तरंगों का टोपोग्राफिकल (topographical) यानी स्थलाकृतिक वितरण बेहद व्यक्तिगत और समय के साथ अत्याधिक स्थिर होता है.

यह भी पढ़ें- रात में सोने में आ रही है दिक्कत? जानिए बेहतर नींद लेने के 4 वैज्ञानिक उपाय

इसका मतलब है कि प्रत्येक व्यक्ति की एक खास न्यूरोनल स्लीप प्रोफाइल (Neuronal Sleep Profile) होती है. इस स्टडी का निष्कर्ष ‘न्यूरोइमेज (neuroimage)’ नामक जर्नल में प्रकाशित किया गया है.

क्या कहते हैं जानकार
इस स्टडी को लीड करने वाली लोरेना गैनोटी (Lorena R.R. Gianotti) के अनुसार, ‘किसी व्यक्ति की धीमी तरंगों की प्रोफाइल की सही व्याख्या सिर्फ सामान्य नींद के दौरान की जा सकती है.’

यह भी पढ़ें- Sound Sleep Benefits: अच्छी और गहरी नींद लेने के ये हैं 5 बड़े फायदे

डॉक्टरेट छात्र और स्टडी की फर्स्ट ऑथर, मिर्जम स्टडलर (Mirjam Studler) ने कहा, “एक परिचित वातावरण में नींद के दौरान ब्रेन एक्टिविटी का अबाधित माप (undisturbed measurement) और 64 इलेक्ट्रोड द्वारा इकट्ठा किए गए डेटा का उच्च घनत्व स्लीप रिसर्च में एक नक्षत्र के रूप में दुर्लभ है. यह प्रतिभागियों को स्वाभाविक रूप से सोने की अनुमति देता है और हमें बड़ी मात्रा में डेटा एकत्र करने की अनुमति देता है.”

Tags: Health, Health News, Lifestyle



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
The Funtoosh

Most Popular

Recent Comments