Thursday, December 8, 2022
The Funtoosh
Homeटेक्नोलॉजीसावधान! हर दूसरे भारतीय कॉल हो रही है ट्रैक, इस तरह करें...

सावधान! हर दूसरे भारतीय कॉल हो रही है ट्रैक, इस तरह करें बचाव


नई दिल्ली. भारत में कई स्मार्टफोन यूजर्स अपने परिवार और दोस्तों के साथ होने वाली बातचीत की प्राइवेसी को लेकर चिंता जताई है. दरअसल, कई यूजर्स ने नोटिस किया कि उनकी सोशल मीडिया फीड पर फोन पर हुई बातचीत के आधार पर विज्ञापन दिखाई दे रहें. लोकल सर्किल कम्युनिटी के सर्वे के मुताबिक हर दूसरे भारतीय की प्राइवेट फोन कॉल ट्रैक हो रही है.ऐसा Google और Facebook यानी Meta की एल्गोरिदम की वजह से हो रहा है.

हाल ही में कम्यूनिटी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लोकलसर्किल द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार भारत में हर 2 में से 1 यूजर ने बातचीत के आधार पर अपनी फीड पर ऐड देखे. इस सर्वे में 8 हजार लोगों ने भाग लिया और इनमें से लगभग 53 प्रतिशत लोगों ने यह अनुभव किया. उनका कहना है कि वह लगभग 12 महीनों से इस तरह की ऐड देख रहे हैं.

माइक्रोफोन एक्सेस तक पहुंच
सर्वे से पता चलता है कि लगभग 9,000 में से 9 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने अपने सभी ऐप्स को माइक्रोफोन एक्सेस करने की अनुमति दी है. साथ ही 11 फीसदी उपयोगकर्ताओं ने ऑडियो और वीडियो कॉल के साथ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के लिए ऐप्स को माइक्रोफोन तक पहुंच प्रदान की है.

पढ़ें- WhatsApp यूज़र्स के लिए खुशखबरी! घर बैठे पा सकते हैं 35 रुपये का कैशबैक, ये है तरीका

सोशल मीडिया साइट कर रहे कॉन्टेक्ट का इस्तेमाल
इस सर्वे में 84 प्रतिशत यूजर्स ने कहा कि WhatsApp उनके कॉन्टैक्ट को यूज कर रहा है. वहीं, 51 प्रतिशत का कहना है कि Facebook और Instagram दोनों उनके कॉन्टैक्ट इस्तेमाल कर रहे हैं. वहीं, 41 प्रतिशत यूजर्स का मानना है कि कॉलर आईडी ऐप Truecaller उनके कॉन्टैक्ट का उपयोग कर रहा है.

कैसे करें बचाव
ऐसे में जब इन ऐड कंपनियों ने आपकी बातचीत तक अपनी पहुंच बना ली है, तो सवाल उठता है कि इससे कैसे बचाव किया जाए. इससे बचाने के लिए यूजर्स किसी भी ऐप को माइक्रोफोन और कैमरा के साथ-साथ कॉन्टैक्ट का एक्सेस न दें, और अगर किसी कारणवश देना पड़ जाए, तो यह एक्सेस केवल एक बार लिए ही दें. यह फीचर Android 11 और उससे ऊपर के ऑपरेटिंग सिस्टम में उपलब्ध है.

पढ़ें-  ऐपल वॉच पर गूगल मैप से दिशा-निर्देश कैसे हासिल करें? जानिए

यह ही बात ऐपल यूजर्स पर भी लागू होती है. ऐपल यूजर्स भी माइक्रोफोन, कैमरा, स्टोरेज और कॉन्टैक्ट आदि का एक्सेस किसी भी ऐप को न दें और खुद को सुरक्षित रखें. अगर आप ऐसे करते हैं, तो आपके ऑडियो और वीडियो कॉल को ट्रैक नहीं किया जा सकेगा. साथ ही आपके कॉन्टैक्ट और स्टोरेज का भी एक्सेस नहीं मिल सकेगा.

Tags: Google apps, Instagram, Twitter



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
The Funtoosh

Most Popular

Recent Comments